LOCAL NEWS

08, March

कानपुर आज खेल रहा असली होली, रतिया बीती भोर भई-जाग गए सब होरियारे

LOCAL NEWS

रतिया बीती भोर भई, जाग गए सब होरियारे। ननदोई आंगन पार खड़े, उस पार पिया की भौंहे तनी। घूंघट में गोरी झांक रही, देवरा कब करिहै बरजोरी। गाल-गुलाल से लाल कियो, देवरा संग आ धमकी टोली। भैया की भौंहे भूल गई, देवरा से भौजी जा लिपटी। ननदोई से आंखे चार भई, ननदी और सैया को खटकी। बीच अगनवां बैठ गईं, रंग डारो भर-भर के मटकी.... कंपू के होरियारे कुछ इसी अंदाज में गंगा मेले पर गुरुवार को मस्ती कर रहे हैं। होलिका दहन के साथ छाए गुलाल के बदरा और रंगों की फुहार एक बार फिर से बौछार बन गए हैं। होलिका दहन के साथ ही मेहनकशों, फक्कड़ों, होरियारों की नगरी रंगों से सराबोर है। होलिका की लपटों के ऊंचाई छूने के साथ टूटा होरियारों का संयम सातवें आसमान पर है। प्राकृतिक नव यौवन की बेला की आगवानी के पर्व में उम्र और रिश्ते के बंधन तोड़ चुके होरियारे अपना संयम तोड़ चुके हैं। मेला पर आंगन-आंगन रंग बरस रहा है। कनपुरिया मस्ती में रंगे हटिया, लाठीमोहाल, नौघड़ा, जनरलगंज, गिलिसबाजार, लाठी मोहाल, बिरहानारोड, धनकुट्टी समेत पुराने मोहल्लों में टोलियां ढोल की थाप पर नकटौरा, बनरा, सोहर, गारी और होली गीतों के साथ कबीरासारारा......पर झूम रहे हैं।

LOCAL NEWS


LOCAL NEWS