NATIONAL NEWS

16, March

और बिगड़ी सीएम योगी आदित्यनाथ के पिता की तबीयत, एम्स में हुए भर्ती

NATIONAL NEWS

उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के पिता आनंद सिंह बिष्‍ट की तबियत अचान‍क से बहुत बिगड़ गई है। उन्‍हें गंभीर हालत में शुक्रवार (16 मार्च) दिल्‍ली के एम्‍स में भर्ती कराया गया है। डिहाइड्रेशन की शिकायत पर आनंद‍ सिंह को देहरादून के जौलीग्रांट हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। डॉक्‍टरों ने शुरुआत में उनकी हालत स्थिर बताई थी। बता दें कि स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी परेशानियों के बाद उन्‍हें मंगलवार (13 मार्च) को अस्‍पताल में दाखिल कराना पड़ा था। इमर्जेंसी में प्राथमिक उपचार के बाद उन्‍हें विशेष वार्ड में रखा गया था। उनकी देखरेख में सीनियर डॉक्‍टरों को लगाया गया था। जानकारी के मुताबिक, आनंद‍ सिंह की तबियत सोमवार (12 मार्च) को बिगड़नी शुरू हुई थी। जौलीग्रांट हॉस्पिटल के जनसंपर्क अधिकारी ने बताया था कि लूज मोशन के कारण आनंद सिंह का बीपी लो हो गया था। योगी की मां सावित्री देवी भी अस्‍पताल पहुंची थीं। लेकिन, गुरुवार (15 मार्च) रात से उनकी स्थिति बिगड़नी शुरू हो गई थी। उत्‍तराखंड के मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के मीडिया संयोजक दर्शन सिंह रावत ने बताया कि सीएम आनंद सिंह के स्‍वास्‍थ्‍य को लेकर बेहद चिंतित हैं और वह जल्‍द ही उनसे मुलाकात कर सकते हैं। सीएम योगी ने किया था फोन: पिता की तबियत खराब होने की खबर सुनकर उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने तुरंत फोन कर स्थिति के बारे में जानकारी ली थी। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, उन्‍होंने उत्‍तराखंड सरकार से संपर्क साधकर इलाज की उचित व्‍यवस्‍था कराने का अनुरोध किया था। आनंद सिंह बेटे के मुख्‍यमंत्री बनने के बावजूद उत्‍तराखंड में यमकेश्‍वर के पंचूर गांव में ही रहते हैं। वह उत्‍तराखंड में ही फॉरेस्‍ट रेंजर के पद पर तैनात थे और 1991 में सेवानिवृत्‍त हुए थे। योगी आदित्‍यनाथ गोरखपुर में महंत अवैद्यनाथ के पास रहने के लिए आ गए थे जहां उन्‍होंने बाद में महंत की गद्दी संभाली थी। रोजगार मेले में पोती और नातिन के साथ देखे गए थे: यूपी के सीएम योगी के पिता आनंद सिंह बिष्‍ट को 29 जनवरी को पोती और नातिन के साथ रोजगार मेले में देखे गए थे। योगी की भतीजी अर्चना बिष्‍ट और भांजी लक्ष्‍मी रावत ने हरिद्वार में आयोजित रोजगार मेले में एक कंपनी में साक्षात्‍कार देने पहुंची थीं। आनंद सिंह उनके साथ आए थे। उस वक्‍त उन्‍होंने कहा था, ‘मैं सिफारिश से नौकरी पाने और पक्षपात का घोर विरोधी हूं। आदित्‍यनाथ जानता है कि मैं उसकी पैरवी को स्‍वीकार नहीं करूंगा।’ सीएम योगी चार भाई हैं। उनके बड़े भाई का नाम मानवेंद्र मोहन है। शैलेंद्र और महेंद्र मोहन उनसे छोटे हैं। शैलेंद्र मोहन सेना में सूबेदार हैं।

NATIONAL NEWS


NATIONAL NEWS