HEALTH NEWS

04, March

मुहांसों से लेकर दिल की बीमारियों तक के लिए रामबाण इलाज है काला जीरा कही जानी जाने वाली कलौंजी, जानिए फायदे

HEALTH NEWS

ऐसा कहा जाता है कि मृत्यु को छोड़कर कलौंजी इंसान को होने वाली हर छोटी-बड़ी बीमारी को ठीक करने में मददगार हो सकता है।कलौंजी निजेला सेटिवा नाम से भी जाना जाता है। इसके अलावा इसे काला जीरा भी कहते हैं। आयुर्वेद में कलौंजी के बहुत सारे फायदों के बारे में बताया गया है। ऐसा कहा जाता है कि मृत्यु को छोड़कर कलौंजी इंसान को होने वाली हर छोटी-बड़ी बीमारी को ठीक करने में मददगार हो सकता है। तो चलिए ऐसी ही कुछ स्वास्थ्य समस्याओं के बारे में आपको बताते हैं जिनमें आप कलौंजी का इस्तेमाल बेहतर फायदे के लिए कर सकते हैं। मुहांसों के लिए – तमाम तरह के एंटी-एक्ने क्रीम्स का इस्तेमाल करने के बाद भी अगर मुहांसों से छुटकारा नहीं मिल पाया है तो कलौंजी के तेल का इस्तेमाल आपकी इस समस्या में मददगार हो सकता है। आधा चम्मच कलौंजी के तेल में एक कप मौसम्बी का जूस मिलाइए और मिश्रण को चेहरे पर लगाइए। दिन में दो बार इस नुस्खे को आजमाइए। कुछ ही दिनों में मुहांसों से निजात मिल जाएगा।बालों के लिए – कलौंजी के तेल की कुछ मात्रा को गर्म कर लीजिए। अब इससे आपने बालों की जड़ों में मसाज कीजिए। तकरीबन एक घंटे बालों को ऐसे ही रहने दीजिए । सप्ताह में दो या तीन बार ऐसा करने पर न सिर्फ बालों का झड़ना कम हो जाएगा बल्कि नए बालों के उगने में भी मदद मिलेगी। याद्दाश्त के लिए – उम्र बढ़ने के साथ-साथ भूलने की बीमारी भी बढ़ने लगती है। किसी भी उम्र में अगर आपको कमजोर याद्दाश्त की समस्या है तो इससे निजात पाने के लिए कलौंजी का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके लिए पुदीने की कुछ पत्तियों को उबालकर उसमें आधा चम्मच कलौंजी का तेल मिलाइए। इस मिश्रण का दिन में दो बार सेवन कीजिए। इसके अलावा आप कलौंजी के बीज को पीसकर उसमें शहद और कलौंजी का तेल मिलाकर भी खा सकते हैं।ब्लड प्रेशर के लिए – अगर आपको हाई ब्लड प्रेशर की समस्या है तो आप अपने किसी पसंदीदा ड्रिंक में कलौंजी के तेल को मिलाकर सेवन कीजिए। इससे आपका ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहता है। लीवर की समस्या में – लीवर में समस्या की वजह से होने वाला पीलिया कभी-कभी जानलेवा हो सकता है। ऐसे में इससे बचाव के लिए कलौंजी के तेल का इस्तेमाल बेहद प्रभावी होता है। इसके लिए कुछ अजवाइन के बीज को रात भर के लिए भिगोकर रख दें। सुबह इसे निचोड़कर इसमें आधा चम्मच कलौंजी का तेल मिलाएं। इस ड्रिंक को दिन में एक बार सेवन करें। इससे लीवर संबंधी हर समस्या से राहत मिलती है। दिल के रोगों के लिए – बकरी के एक कप दूध में आधा चम्मच कलौंजी का तेल मिलाकर ड्रिंक बना लें। इसे दिन में दो बार तकरीबन 10 दिनों तक पिएं। इस ट्रीटमेंट के दौरान फैटी और ऑयली फूड्स से परहेज करें। इससे दिल संबंधी सभी बीमारियों से सुरक्षा मिलती है}

HEALTH NEWS


HEALTH NEWS